जुर्म

25 का दुल्हा + 14 की दुल्हन = पुलिस ने 3 को किया गिरफ्तार

पुलिस और प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर रूकवाया विवाह

25 का दुल्हा + 14 की दुल्हन = पुलिस ने 3 को किया गिरफ्तार

पुलिस और प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर रूकवाया विवाह

बैतूल। बाल विवाह रोकने के लिए सरकार सहित तमाम एनजीओ द्वारा व्यापक प्रचार-प्रसार वर्षों से करते आ रहे हैं बावजूद इसके अभी भी ग्रामीण अंचलों में बाल विवाह की प्रथा जारी है। इसे अशिक्षा कहें या फिर कुछ और लेकिन लोग कम उम्र की बालिकाओं का दुल्हन बनाने से पीछे नहीं रहे हैं।

ऐसा ही एक मामला जिले के मुलताई ब्लाक के अंतर्गत आने वाले ग्राम उमनबेहरा में सामने आने पर पुलिस और प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर विवाह रूकवाया है। यहां पर 25 की उम्र का दुल्हा 14 साल की दुल्हन से विवाद करने पहुंचा था। पुलिस ने दुल्हें सहित तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

मंडप में पहुंची अधिकारियों की टीम

प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम उमनबेहरा में परिजनों द्वारा 14 वर्षीय नाबालिग का विवाह कराने की सूचना डायल-100 पर प्राप्त होते ही पुलिस ने सक्रियता और सख्ती दिखाई। सांईखेड़ा थाना अंतर्गत ग्राम उमनबेहरा में हो रहे विवाह की सूचना मिलते ही एसपी सिद्धार्थ चौधरी, एएसपी नीरज सोनी के मार्गदर्शन में महिला बाल विकास, राजस्व, एवं पुलिस की संयुक्त टीम ने मौके पर पहुंचकर निरीक्षण किया।

ग्राम में झुम्मक इवने के घर शादी का टेंट लगा था और विवाह की रस्में चल रही थी। मौके पर पहुंची टीम ने दुल्हा धनराज कुमरे तथा दुलहन के परिजनों से पूछताछ की। पुलिस ने नाबालिग बालिका के उम्र संबंधी दस्तावेज मांगे जो उपलब्ध नहीं कराएं गए।

नाबालिग निकली दुल्हन

ऐसे में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का रजिस्टर चेक करने पर बालिका की उम्र 14 वर्ष 5 माह होने की पुष्टि हुई। नाबालिग का नियम विरुद्ध विवाह कराए जाने पर सांईखेड़ा थाने में अपराध क्रमांक 113/23, धारा 9, 10 बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम 2006 दर्ज कर विवेचना में लिया गया।

आरोपी दुल्हे धन्नू उर्फ धनराज पिता रतनलाल कुमरे (25), दुल्हे के पिता रतनलाल हिम्मत कुमरे(60), दुलहन के पिता झुम्मक जुगरु कुमरे(45)को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया। उक्त कार्रवाई में प्रभारी निरीक्षक रविकांत डेहरिया, प्रभारी डीपीओ लीला अरोरा, राजस्व आरआई रमेश गायकवाड़, पर्यवेक्षण अधिकारी कांता गुजरे, सउनि धनसिंह सल्लाम, आर झमोला सिरसाम, विनोद साहू, नरेन्द्र कुशवाह, सैनिक चन्द्रभान, पटवारी मंजुला सोनी, आनंगवाड़ी कार्यकर्ता रामकली उईके, सहायिका चन्द्रकला आहके का सहयोग रहा।

Desk

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह भी पढ़ें

Back to top button
E7Live TV

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker