फैशन

Haar design :इस हार को पहन कर आप भी महारानी से कम नहीं लगेंगी, जानें खास बातें

महिलाओं को अति प्रिय है यह हार, आप भी जाने रॉयल लुक देने वाले इस हार के बारे में सब कुछ। 

rani haar for ladies price

महिलाओं की सुंदरता में इजाफा करने में आउटफिट, मेकअप और हेयर स्टाइल के साथ-साथ ज्वेलरी भी बड़ी भूमिका निभाती है। ऐसे में हर महिला के पास एक नहीं बल्कि दर्जनों ज्वेलरी सेट होते हैं, जो उनकी सुंदरता को चार गुना बढ़ा देते हैं।वैसे तो आजकल बाजार में बहुत सारी ट्रेंडी ज्वेलरी आपको नजर आ जाएंगी, मगर जो बात ट्रेडिशनल ज्वेलरी में है, वह आज भी महिलाओं के मन को लुभाती है। इसलिए आज हम बात करेंगे बहुत ही फेमस ज्वेलरी आइटम के बारे में, जिसे रानी हार कहा जाता है।रानी हार के नाम से ही यह बात जाहिर हो जाती है कि हम किसी ऐसे हार के बारे में बात कर रहे हैं, जो रानियां और महारानियां पहना करती थीं। इस तरह का हार पहनने का शौक आज भी महिलाओं में देखा जा रहा है।

हम बॉलीवुड एक्‍ट्रेसेस से लेकर अमीर बिजनेसमैन फैमिली की महिलाओं को इस तरह का हार पहने आज भी देख सकते हैं। देश के सबसे अमीर बिजनेसमैन मुकेश अंबानी की वाइफ नीता अंबानी के पास भी रानी हार की कई डिजाइंस हैं, जिन्हें पहने हुए उन्हें कई अवसरों पर देखा जा चुका है। हालांकि, अब बाजार में सस्ते दामों पर आर्टिफिशियल रानी हार में एक से बढ़कर एक डिजाइन भी आपको मिल जाएंगी, मगर आज हम जानेंगे कि आखिर इस हार का इतिहास क्या रहा है, यह कितने तरह का होता है और इसे महिलाएं कैसे स्टाइल कर सकती हैं।

history design and style

रानी हार का इतिहास

रानी हार राजस्थानी कल्चर का प्रतिनिधित्व करता है। यह हार राजस्थान की संस्कृति और राजघराने की महिलाओं के सजने संवरने के शौक को दर्शाता है। यह बता पाना कि रानी हार अस्तित्व में कब आया और किस रानी ने इसे पहली बार पहना, मुश्किल होगा। मगर राजपुताना परिवारों में आज भी इस तरह के हार पहनने की परंपरा है।

Mughlai Mehndi Designs: बेमिसाल मुगलई मेहंदी डिजाइंस देखें

कई परिवारों में तो इन हारों को पुश्तैनी होने का दर्जा प्राप्‍त होता है। यानि कि एक पीढ़ी से ये हार दूसरी पीढ़ी की औरतों को उपहार या विरासत के रूप में सौंपने की परंपरा आज भी देखी जा रही है।

 

पुराने जमाने की बात करें तो यह हार आमतौर पर रानियां पहनती थीं और इसी हार से यह पहचाना जाता था कि महिला किसी राजघराने से है। उस जमाने में रानी हार को मोतियों एवं बेशकीमती रत्नों से तैयार किया जाता था।

 

रानी हार की एक खास बात यह भी थी कि इसमें मल्‍टी लड़ होती थीं, जो इसकी खूबसूरती को और भी ज़्यादा बढ़ा देती थी।

Choodi Set Designs: लाल, हरी और पीले रंग वाली चूड़ी सेट के ये नए डिजाइंस हैं खास, बसंत पंचमी पर आएंगे काम

आज के जमाने में रानी हार में काफी बदलाव देखे गए हैं। हालांकि, इन बदलावों ने रानी हार की खूबसूरती में इजाफा ही किया है। बेस्ट बात तो यह है कि केवल अमीर घराने की औरतें ही नहीं बल्कि आम परिवार की औरते भी इस तरह के हार अपनी ज्वेलरी कलेक्शन में शामिल कर सकती हैं क्योंकि अब बाजार में आर्टिफिशियल ज्वेलरी में भी यह हार आसानी से मिल जाते

Note : oi pulse promo code subcribtion के लिए use करें और पाए 15  से ,20  % का डिस्काउंट

SMG05 – 5% discount – oipulse Go Pro or 1 clieq monthly

 

SMG10 – 10% discount – oipulse Go Six or 1 clieq 6 month

 

SMG15 – 15% discount – oipulse Go Annual or 1 clieq annual

Editor

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह भी पढ़ें

Back to top button
E7Live TV

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker