हेल्थ

Best options :पोस्ट वर्कआउट स्नैक्स के रूप में खाई जा सकती हैं ये चीजें

वर्कआउट के बाद मसल्स को रिकवरी की जरूरत होती है। ऐसे में आपको अपने पोस्ट वर्कआउट स्नैक्स पर खासतौर से ध्यान देना चाहिए। ऐसे कई स्नैक्स होते हैं, जो पोस्ट वर्कआउट के रूप में खाए जा सकते हैं।

post workout snacks for women

अच्छी सेहत पाने के लिए एक्सरसाइज करना बेहद जरूरी माना गया है। हालांकि, सिर्फ वर्कआउट करके ही आप अपनी सेहत का ख्याल नहीं रख सकते हैं। बल्कि इसके लिए जरूरी है कि आप अपने खानपान पर भी ध्यान देदरअसल, जब आप वर्कआउट करते हैं या फिर स्ट्रेन्थ ट्रेनिंग करते हैं तो उस दौरान आपकी मसल्स टूटती हैं। ऐसे में वर्कआउट के बाद मसल्स को रिपेयर व रिकवरी के लिए फूड की जरूरत होती ह

ऐसे बहुत से लोग होते हैं, जिन्हें वर्कआउट के बाद काफी भूख लगती है। ऐसे में आपको प्रोटीन रिच सोर्स की ओर रुख करना चाहिए। प्रोटीन आपकी मसल्स को रिकवर व रिपेयर करने में मदद करता है। तो चलिए आज इस लेख में सेंट्रल गवर्नमेंट हॉस्पिटल के ईएसआईसी अस्पताल की डाइटीशियन रितु पुरी आपको बता रही हैं कि पोस्ट वर्कआउट के बाद आप स्नैक्स के रूप में क्या-क्या खा सकते हैं-

Rings Disigne: रिंग्स डिजाइन स्टाइलिश लुक मिलेगा आकर्षक

कौन सा लें प्रोटीनhealthy diet after workout

 

जब पोस्ट वर्कआउट स्नैक की बात होती है तो ऐसे में आपको अपने प्रोटीन सोर्स पर खासतौर से ध्यान देना चाहिए। प्रोटीन मसल्स के टिश्यूज को रिपेयर व रिकवरी के लिए बहुत जरूरी है। प्रोटीन भी दो तरह के होते हैं- हाई बायोलॉजिकल प्रोटीन अवेलिबिलिटी व लो बायोलॉजिकल प्रोटीन अवेलिबिलिटी।

राम मंदिर 🙏🏻लाइव ubdates ❤️ राम मंदिर के बारे में जानकारी

जहां हाई बायोलॉजिकल प्रोटीन अवेलिबिलिटी बॉडी को तुरंत लगता है और आपको रिकवरी देता है। वहीं, लो बायोलॉजिकल प्रोटीन अवेलिबिलिटी बॉडी में धीरे-धीरे ब्रेकडाउन होते हैं और इसलिए वर्कआउट के बाद आपको इंस्टेंट रिकवरी नहीं मिलती है।

 

ऐसे में आपको वर्कआउट के बाद ऐसे प्रोटीन सोर्स को चुनना चाहिए, जिनकी हाई बायोलॉजिकल प्रोटीन अवेलिबिलिटी हों और मसल्स को तुरंत रिकवरी मिल सके।

Editor

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह भी पढ़ें

Back to top button
E7Live TV

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker