Uncategorized

Latest satyanashi paudha ke upay : 21 दिन करें इस पौधे के रस का सेवन नपुंसकता हो जाएगी दूर और डायबिटीज और पीलिया में भी कारगर देगा

satyanashi paudha ke upay : 21 दिन करें इस पौधे के रस का सेवन नपुंसकता हो जाएगी दूर और डायबिटीज और पीलिया में भी कारगर देगा

मध्य प्रदेश में सभी लोग अंग्रेजी दवाई से तंग आकर आयुर्वेदिक दवाई शुरू कर दिए हैं और ग्रामीण क्षेत्र में तो यह सत्यानाशी  के पौधा हर जगह रहता है पर इसका उपयोग कोई नहीं जानता इस आयुर्वेदिक के मुताबिक सत्यानाशी के पौधे से निकलने वाले पीले रंग के दूध का इस्तेमाल बताशे के साथ करना चाहिए इसके अलावा आप इसका चूर्ण बनाकर भी सेवन कर सकते हैं यह शरीर के लिए लाभदायक होता है।

सत्यानाशी पौधे कांटेदार होता है पुराने जमाने में चिकित्सा शास्त्र में यह एक चमत्कारी पौधे के रूप में जाना जाता है इस पौधे का फल या इसकी पत्तियां शरीर की कई बीमारियों के लिए रामबाण इलाज है सत्यानाशी पौधा पुरुषों के लिए तो वरदान माना जाता है आयुर्वेद शास्त्र के अनुसार प्राचीन ग्रंथ आयुर्वेद में से अनगिनत औषधि पौधे का जिक्र है जिनके इस्तेमाल से इंसान हर मौसम में न सिर्फ चुस्त-हुरूस्त रह सकता है बल्कि शारीरिक कमजोरी से भी निजात पा सकता है इन्हीं पौधों में से एक है सत्यानाशी का पौधा इस पौधे का इस्तेमाल मर्दाना कमजोरी को दूर करने में होता है साथ ही यह मधुमेह पीलिया पेट का दर्द खांसी और यूरिन समस्या सहित दर्जनों का नाश करता है।

आयुर्वेद के अनुसार मुख्य रूप से यह पौधा हिमालय क्षेत्र में पाया जाता है और ग्रामीण क्षेत्रों में ही पाया जाता है लेकिन यह मध्य प्रदेश के सड़क के किनारे अक्सर ही देखा जाता है इस पौधे पर कांटे अधिक होते हैं और इसके फूल पीले रंग के होते हैं फलों के अंदर श्याम वाले रंग के बीज होते हैं सत्यानाशी को स्वर्ण श्री नाम से भी जाना जाता है क्योंकि इसको तोड़ने पर पीले रंग का दूध निकलता है इसमें एंटीमाइक्रोबॉयल एंटी डायबिटिक एनालिसिस एंटी फ्लो बैटरी एंटीस्पायरोमेट्रिक और एंटीऑक्सीडेंट जैसे कई गुणकारी तत्व ही पाए जाते हैं आयुर्वेद में इसका इस्तेमाल के बारे में सभी लोगों को बताया ही गया है जिसमें सत्यानाशी का पौधा पेट के रस बी के तेल पत्तियों का लेप जैसे कई अन्य तरीकों से इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

Editor

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह भी पढ़ें

Back to top button
E7Live TV

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker